गणेश चतुर्थी क्या है – गणेश चतुर्थी क्यों और कैसे मनाते है | गणेश चतुर्थी की हार्दिक शुभकामना

By | September 5, 2016

आप सभी को गणेश चतुर्थी की हार्दिक शुभकामना – श्री गणेश आप के जीवन मै खुशियो का श्री गणेश करे मतलब आपके जीवन में भी बहार आये. इस पेज पर आप जान पाएंगे क्यों श्री गणेश चतुर्थी के बारे मै. गणेश जी का पूजा हर साल बड़े ही धूम धाम से मनाया जाता है. गणेश चतुर्थी प्रमुख तौर से दस दिनों तक मनाया जाता है. इस दिन श्री गणेश भगवान् की प्रतिमा लाई जाती है और पुरे श्रद्धा और विश्वास के साथ पूरी सफाई और पवीतता के साथ किया जाता है. गणेश जी भगवन शंकर और माँ पार्वती के पुत्र है, गणेश जी का पूजा कोई भी पूजा हो सबसे पहले गणेश जी की ही पूजा की जाती है फिर दूसरे भगवान् की पूजा की जाती है . 

Ganesh jee birhtdayगणेश जी को १०८ नामो से जाना जाता है. गणपति जी को विनायक या गजानंद कहा जाता है .अब आपको गणेश जी के जन्म के बारे में बताने जा रहा हूँ. हिन्दुओ के धार्मिक ग्रन्थ के अनुसार इसके दो प्रथा है. एक –  गणेश जी का जन्म माँ पार्वती के शरीर के मईल से एक पुतला बनाया गया और माँ पार्वती ने उसमे प्राण डाल दी. जब पार्वती माता अपने स्नान कझ में गई तो गणेश जी को बाहर खड़ा करके आदेश दिया की किसी को दरवाजा से अंदर नहीं आने देना. भगवान् शंकर जी को यह पता नहीं था की ये सारी बाते.

जब वो आये तो गणेश जी ने उन्हें अंदर नहीं आने दे रहे थे, तभी गुस्से से शिव जी ने गणेश जी का गर्दन काट दिये और गणेश जी की देहांत हो गया. फिर माँ पार्वती आयी और ये सभी देख कर बहुत दुखी हुई और भोलेनाथ से बाल गणेश को जीवित करने की आग्रह करने लगी. तभी कुछ ऐसा हुआ की गणेश जी को हाथी का गर्दन लगाने पड़ी, तभी से गणेश जी का दूसरा नाम गजानन भी पर गया.

दूसरी प्रथा- गणेश जी भगवान् शिव और माँ पार्वती के द्वारा बनाया गया था – एक शक्ति शाली राक्षस जो सभी देवो को परेशान कर रहा था- उसी से रक्झा के लिए भगवान् गणेश जी को भेज गया था.  गणेश चतुर्थी क्यों और कैसे मनाते है – यह अगले पोस्ट में दिया जायेगा आप अगले पोस्ट पढ़ सकते है .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *