बसंत का मौसम – 1 फरवरी 2017 वसंत पंचमी – बसंत पंचमी का उत्सव खास महत्व

By | January 29, 2017

1 फरवरी को वसंत पंचमी है बसंत का मौसम अपने साथ उल्लास और उमंग लेकर आता है इस मौसम एक नई ताजगी और ऊर्जा हमारे मन मस्तिक में जाने लगती है इसकी शुरुआत विद्या देवी मां सरस्वती की आराधना से होती है यह त्योहार प्रमुखता विद्यार्थियों के लिए जो पढ़ाई करते हैं उनके लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होती है विद्यार्थियों के लिए बसंत पंचमी का उत्सव का अपना खास महत्व है या दुनिया भर के लगभग सभी देशों में विद्यार्थियों के द्वारा इस पूजा का आयोजन किया जाता है वसंत पंचमी न्यू वास्तविक में हमारे जीवन में एक नई ऊर्जा का संचार करती है इस पर आप को बसंत पंचमी की बहुत सारी जानकारी दी गई|

बसंत पंचमी को अलग अलग नामों से जाना जाता है अलग देशों में अलग नाम से जाना जाता है|बसंत पंचमी मयामार में मां थुराथुड़ी  के नाम से जाना जाता है साथी ने सबका भी मंदिर करते हुए कहा कि वह मां सरस्वती को थुराथुड़ी  कहते हैं| हम बच्चे परीक्षणों में उनके लिए पूजा करते हैं| वहां इस दौरान धूमधाम से पूजा की जाती है हर स्कूलों में| जापान में बेनजेतैन नाम से जाना जाता है वहां की मां सरस्वती की प्रतिमा वाद्ययंत्र विवाह को हाथ में पकड़े रहती है जो सरोज से मिलता जुलता दिखता है| 

इंडोनेशिया में सरस्वती पूजा का इतिहास बहुत ही पुराना माना जाता है| वहां आया तो हार बहुत ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है , मां सरस्वती की भाषा रचनात्मक, कला, शुद्धता ,बुद्धि की देवी के रूप में पूजा की जाती है| सरस्वती पूजा के दिन वहां के श्रद्धालु मातृशक्ति को जल अर्पण करते हैं और वहां के लोग कई प्रकार के व्यंजन जैसे कि विवेक और बिटटू नाम के व्यंजन को मिल बात  करके खाते हैं | घर पर ऑफिस के विभिन्न हिस्सों में ज्ञान की देवी की पूजा की जाती है|

आप सभी को सरस्वती पूजा की हार्दिक शुभकामनाएं ! अगर आपके पास में सरस्वती पूजा से जुड़ी कोई भी जानकारी है –  तो आप हमारे साथ कमेंट के माध्यम से शेयर कर सकते हैं | 

One thought on “बसंत का मौसम – 1 फरवरी 2017 वसंत पंचमी – बसंत पंचमी का उत्सव खास महत्व

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *